मां-बाप को चकमा देकर बेटियां करती थीं ये काम....पुलिस ने पकड़ लिया

स्कूल जाने की बजाय दो लड़कियां अपने माता-पिता को चकमा देकर लड़कों के साथ वक्त बिताती थीं। दोनों एक दिन पकड़ी गईं, पुलिस ने दोनों को माता-पिता के हवाले कर दिया। जानिए क्या है पूरी खबर:


लड़कियों के माता-पिता तो यही जानते थे कि उनकी बेटियां रोज पढ़ने के लिए स्कूल जाती हैं!

लेकिन हमेशा ऐसा होता नहीं था। घर से स्कूल जाने के बहाने निकलने वाली लड़कियां एकांत में लड़कों के साथ वक्त गुजारतीं थी।

सोमवार को जब पुलिस स्टेशन से फोन आया तो माता-पिता के पैरों तले जमीन खिसक गई।

उन्हें नहीं पता था कि बेटियों को पुलिस थाने क्यों ले गई है? जब पता चला तो उनकी शर्मिंदगी का ठिकाना नहीं रहा।

बिहार के नवादा जिले के मुफस्सिल थाना की दो छात्राएं स्कूल के लिए घर से निकली थी।

वे स्कूल जाने के बजाय एसडीओ आवास के पश्चिमी गेट के सामने नलकूप विभाग की जर्जर बिल्डिंग के पास पहुंचीं। यहां वाटर सप्लाई का स्टाफ रूम है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि उस कमरे में विक्की और मिथुन नाम के दो लड़के पहले से मौजूद थे।

उसके बाद विकास नाम के लड़के ने दोनों लड़कियों को स्टाफ रूम के कमरे तक पहुंचाया।

दोनों लड़कियां कमरे में चली गई। उसके बाद पंचम नाम के चौथे लड़के ने उस परिसर का ताला बाहर से लगा दिया। विकास और पंचम पीछे से दीवार फांद रहे थे। इसी दौरान लोगों ने शोर मचा दिया और दोनों को पकड़ लिया।

जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची।

दर एसडीओ राजेश कुमार चारों लड़कों और दोनों लड़कियों को जीप में बैठाकर थाने ले आए। सदर एसडीओ राजेश कुमार ने बताया कि हमें यहां पर लड़के लड़कियों के होने की सूचना मिली थी। काफी भीड़ जमा हो गई थी। सभी को महिला थाने में भेजा गया है। महिला थाना अध्यक्ष सुषमा कुमारी ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ के दौरान जो बातें सामने आई उससे यह स्पष्ट हो गया कि इन सबकी मंशा गलत थी। वे गलत नीयत से एकत्रित हुए थे। उनके परिजनों को बुलाकर पीआर बांड पर छोड़ दिया गया है।

Latest Lists

Bollywood
Entertainment
Bollywood
Bollywood